बालिकाओं के साथ कलेक्टर ने खाया खाना ‘लंच विद लाड़ली’ प्रोग्राम

जिले में सामूहिक प्रयासों से बढ़ रहा है बालिकाओं का लिंगानुपात
झुंझुनू, 10 जनवरी। जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव ने हेतमसर के राजकीय आदर्श बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में बुधवार को ‘लंच विद लाडली’ कार्यक्रम में विद्यालय की बालिकाओं के साथ न केवल राष्ट्रीय पोषाहार कार्यक्रम के तहत बालिकाओं को दिये जाने वाले दोपहर का भोजन किया, अपितु बारहवीं कक्षा की बालिकाओं को इतिहास और रसायन विज्ञान विषय से संबंधित सवाल भी पूछे। यादव प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देश में चलाये गये ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं’ के संदेश का जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव द्वारा जिले में एक नये अंदाज में नवाचार कर रहे है।

जिला कलक्टर ने बताया कि जिले में 2011 लिंगानुपात 837 था, लेकिन अब इसमें राज्य सरकार, जिला प्रशासन, आम जनता की जागरूकता एवं मीडिया के सहयोग से काफी सुधार हुआ है। उन्होंने बताया कि लिंगानुपात में वृद्धि के लिये जहां समझाइश से काम लिया गया, वहीं थोड़ी सख्ती भी बरती गई है।

उन्होंने जिला प्रशासन की टीम की तारीफ करते हुए कहा कि यह अच्छी बात है कि जिला प्रशासन के संयुक्त प्रयासों से वर्तमान में यह लिंगानुपात बढ़कर 956 हो गया है। उन्होंने बताया कि बालिकाओं का घटता हुआ लिंगानुपात पूरे देश के लिये चिन्ता का विषय है, इसके लिये अभिभावकों को भी जागरूक होने की जरूरत है। उन्होंने इस दौरान बालिकाओं से साथ क्विज प्रतियोगिता का आयोजन भी किया।

यादव ने कहा कि ‘लंच विद लाडली’ से बालिकाओं में जहां कॉन्फीडेंस लेवल बढ़ता है, वहीं बात करने से उनकी झिझक भी दूर होती है।
इस अवसर पर मतदाता जागरूकता अभियान पर आयोजित क्विज प्रतियोगिता में अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी श्री अम्मी लाल मूंड ने विद्यालय की आठवीं से बारहवीं क्लास की बालिकाओं से मतदान अधिकारों से संबंधित अनेक सवाल पूछे, जिनका हर क्लास की बालिकाओं ने बड़ी समझदारी से जवाब देकर सबको आश्चर्यचकित कर दिया।

जिला कलक्टर ने क्विज प्रतियोगिता में विजेता रही बालिकाओं पुरस्कार एवं टॉफियां भी वितरित की। इस अवसर पर महिला बाल विकास विभाग के सहायक निदेशक श्री विप्लव न्योला एवं प्रधानाध्यापिका श्रीमती राजबाला ढाका सहित अन्य अध्यापिकाएं भी उपस्थित थीं।

Leave a Reply